अनुपस्थित अधिशासी अधिकारी नगरपालिका को कारण बताओ नोटिस

0
6

कलेक्ट्रेट में हुई जिला स्वच्छ भारत, गो आश्रय स्थल समिति की समीक्षा-शौचालयो से निकलने वाला गंदा पानी नालियों ना बहाएं, बनाएं सोख्ता गड्ढा

चंदौली : कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी निखिल टी. फुंडे की अध्यक्षता में जिला स्वच्छ भारत मिशन मैनेजमेंट कमेटी व गो आश्रय स्थलों के निर्माण/गोवंश समिति की समीक्षा बैठक बुधवार को हुई। इसमें डीएम ने बैठक की सूचना के बाद भी अनुपस्थित रहे अधिशासी अधिकारी नगरपालिका विकासधर को कारण बताओ नोटिस जारी करने का निर्देश दिया। स्वच्छ भारत मिशन की समीक्षा के दौरान सभी बिंदुओं पर निराशाजनक प्रगति पर डीएम ने नाराजगी जाहिर की। माह के अंत तक सभी बिंदुओं पर कार्य पूर्ण करते हुए जियो टैगिंग कर लक्ष्य पूर्ण करने का निर्देश दिया। कहा कि लापरवाही पर संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।डीएम ने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिया कि शौचालय से निकलने वाला गंदा पानी सीधे नाली में न बहने पाए। इसके लिए सोख्ता गड्ढे का निर्माण कराएं। लोगो के बीच जाकर जन जागरूकता अभियान चलाएं ताकि लोग सोख्ता गड्ढे का निर्माण कराएं। क्योंकि गंदा पानी सीधे नालियों से होकर तालाबों में जाकर गिरता है तो जल श्रोतों के मध्यम से हमारे पेयजल में घुल जाएगा। इससे अनेक प्रकार की बीमारियां उत्पन्न होती है। गोवंश समिति की समीक्षा में सड़कों पर घूम रहे गोवंश को पकड़ कर गोआश्रय स्थलों में पहुंचाने की धीमी प्रगति पर मुख्य पशु चिकित्साधिकारी पर नाराजगी जाहिर की। सभी बीडीओ व पशु चिकित्साधिकारी को संयुक्त कार्रवाई कर व्यवस्था सुनिश्चित रखने का निर्देश दिया। कैटल कैचर खरीदने के संबंध में जिलाधिकारी ने जिला पंचायत के अधिकारियों से पूछताछ की। संबंधित अधिकारी ने बताया कि जल्द ही कैटल कैचर का संचालन आरंभ हो जाएगा। अस्थायी गोआश्रय स्थलों के निर्माण की समीक्षा में डीएम ने सभी बीडीओ को अस्थायी गो आश्रय स्थलों के निर्माण कार्य को शीघ्र पूर्ण कराने का निर्देश दिया। कहा कि गोआश्रय स्थलों में ठंड से बचने के लिए पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करें। सीडीओ एसएन श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्साधिकारी, बीडीओ, एडीओ पंचायत सहित अन्य संबंधित अधिकारी/ कर्मचारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here