राज्यसभा सांसद दर्शना सिंह ने चंदौली वासियों के लिए संसद में की ड्राइविंग प्रशिक्षण और अनुसंधान संस्थान (आई डी टी आर) की मांग…

0
29

राज्यसभा सांसद श्रीमती दर्शना सिंह जी ने आज उच्च सदन राज्यसभा में जीरो ऑवर में सभापति जी के सामने केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय से सड़क सुरक्षा और चालकों की सुरक्षा के लिए ड्राइविंग प्रशिक्षण और अनुसंधान संस्थान की स्थापना जनपद चंदौली में करने हेतु मांग की है। दर्शना सिंह ने कहा कि इस केन्द्र के स्थापित होने से चंदौली तथा आसपास के जिलों के नागरिकों को बहुत लाभ होगा। इससे प्रतिदिन सैकड़ो युवाओं को हल्के व भारी मोटर वाहन चलाने का प्रशिक्षण दिया सकता है। उन्होंने कहा कि ड्राइविंग के अच्छे प्रशिक्षण से हमें अच्छे चालक मिलेंगे व सड़क दुर्घटनाओं में कमी आएगी। हमारे देश में यातायात की स्थिति गंभीर होती जा रही है। बढ़ते हुए यातायात की वजह से सड़क दुर्घटनाओं में वृद्धि हो रही है। ऐसे में सड़क सुरक्षा और यातायात नियमों की सही जानकारी प्रत्येक वाहन चालक के लिए बड़ी जरूरी है।दर्शना सिंह ने कहा पिछले कुछ सालों से जिले में हादसों का ग्राफ काफी बढ़ा है। यही वजह है कि हर साल सैकड़ों लोग हादसों में अपनी जान गंवा रहे हैं। हादसों की एक बड़ी वजह वाहन चलाने का सही प्रशिक्षण न मिलना भी है। ट्रैफिक पुलिस रोजाना हाईवे पर गलत लेन में चलने वाले ट्रकों के चालान काट रही है। जानकारी के अभाव में चालक ट्रक लेकर अचानक दूसरे लेन में चले जाते हैं। इससे वह दूसरों की जान से भी खिलवाड़ करते हैं।दर्शना सिंह ने बताया कि केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी जी के सड़क सुरक्षा पहल के रूप में सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय द्वारा ड्राइविंग प्रशिक्षण और अनुसंधान संस्थान की स्थापना कई राज्यों में की गई है। जिसमे उत्तरप्रदेश के कानपुर और रायबरेली में भी ड्राइविंग प्रशिक्षण और अनुसंधान संस्थान का निर्माण किया गया है। परन्तु कई महत्वपूर्ण राज्यमार्ग एवं राष्ट्रीय राज्यमार्ग हमारे जनपद चंदौली से भी निकलते है और माननीय प्रधानमंत्री जी का संसदीय क्षेत्र बनारस भी लगा हुआ है तथा जनपद चंदौली और बनारस कि जनसँख्या को देखते हुए एक ड्राइविंग प्रशिक्षण और अनुसंधान संस्थान की स्थापना जनपद चंदौली में की जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here