हर्षोल्लास के साथ मनाया गया भगवान श्री कृष्ण का जन्मोत्सव

0
26

चंदौली। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के लिए शहर व गांव में पूरी तैयारी एवं हर्षोल्लास के साथ बृहस्पतिवार को जन्माष्टमी का त्यौहार धूमधाम व परम्परागत तरीके से मनाया जाएगा। जनपद के मंदिरों व थाना-कोतवाली में श्रीकृष्ण की सुंदर झांकियां सजाई गयी। वहीं भजन-कीर्तन का कार्यक्रम भी पूरी रात अनवरत जारी रहा। जनपद के थानों व गांव के मंदिरों की भव्यता देखते ही बन रही थी।विदित हो कि जनपद में भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाया जाएगा। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व हिन्दु पंचाग के अनुसार, भाद्रपद मास कृष्ण पक्ष की अष्टमी को मनाया जाता है। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का त्यौहार बृहस्पतिवार को धूमधाम से मनाया गया। दिन भर श्रद्धालुओं ने व्रत रखकर भजन-कीर्तन किया। रात 12 बजते ही घंटा घड़ियालों के साथ बधाइयां बजनी शुरू हो गईं। दिन भर भजन-कीर्तन करते हुए लोगों ने भागवान श्रीकृष्ण आराधना एवं उपासना की और जगह-जगह झांकियां सजाई। जिले के सभी थानों, मंदिरों सहित अन्य स्थानों पर झांकियां सजाई गई थीं। विशेष उपासक को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मनाया, वहीं आम लोग बुधवार को अपने-अपने घरों में जन्माष्टमी मनाई और व्रत रखा। इस दौरान मंदिरों व घरों को रंग-बिरंगे झालरों से सजाया गया था। कुछ स्थानों पर श्रीकृष्ण जन्मोत्सव की झांकी इतनी सुंदर सजाई गयी थी कि उसे देखने के लिए लोगों का तांता लगा रहा। वही बृहस्पतिवार की मध्य रात्रि के बाद लोगों ने व्रत तोड़ा और भगवान श्रीकृष्ण के जन्म को उल्लास एवं उत्साहपूर्वक मनाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here