ट्रांसमिशन से ही नहीं मिल रही बिजली, आपूर्ति में व्यवधान-नाराज

0
25

ग्रामीणों ने एसडीओ कार्यालय का किया घेराव-प्रभारी मंत्री से शिकायत, सुधार का दिया आश्वासन

चंदौली : ग्रामीण इलाकों में बिजली की अनियमित कटौती को लेकर हाहाकार मच गया है। बुधवार को गोरारी, बबुरी, कांटा, सैयदराजा व दिघवट फीडर से जुड़े नाराज ग्रामीणों ने एसडीओ कार्यालय का घेराव किया। चेताया कि यदि विद्युत व्यवस्था में सुधार नहीं किया गया तो ग्रामीण आंदोलन को बाध्य होंगे। एसडीओ विवेक मोहन श्रीवास्तव ने कहा कि ट्रांसमिशन से ही आपूर्ति नहीं होने के कारण विद्युत व्यवस्था में व्यवधान उत्पन्न हो रहा है।दरअसल पिछले एक सप्ताह से नगर हो या गांव उपभोक्ताओं को रोस्टर के अनुसार बिजली की आपूर्ति नहीं की जा रही है। नगरों में 24 व ग्रामीण इलाकों में 18 घंटे विद्युत आपूर्ति करने का सरकार का दावा खोखला साबित हो गया है। विडंबना कि ग्रामीण इलाकों में शाम को छह बजे ही आपूर्ति ठप हो जा रही है और भोर में तीन बजे बिजली आ रही है। ऐसे में ग्रामीण उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस बात से नाराज गोरारी, कांटा सहित अन्य फीडरों से जुड़े ग्रामीण बुधवार को एसडीओ कार्यालय पहुंच गए और विभागीय अधिकारियों को खरी-खोटी सुनाई। कहा कि लगभग पचास गांव के ग्रामीण इन फीडरों से जुड़े हैं। ऐसे में विद्युत आपूर्ति में बाधा उत्पन्न होने के कारण उन्हें परेशानी उठानी पड़ रही है। एसडीओ ने कहा कि लखनऊ से ही आदेश है कि ए ग्रुप व बी ग्रुप ग्रामीण इलाकों की बिजली शाम छह बजे काटनी है। भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष राणा प्रताप सिंह ने मामले की शिकायत केंद्रीय भारी उद्याेग मंत्री डा महेंद्र नाथ पाण्डेय व प्रभारी मंत्री संजीव गोड़ से की। प्रभारी मंत्री ने आश्वासन दिया कि विद्युत व्यवस्था में जल्द ही सुधार कराया जाएगा। ओमप्रकाश सिंह, अरविंद, अरुण सिंह, चंद्रमा, उपेंद्र आदि ग्रामीण उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here