विवाहिता ने फांसी लगाकर दी जान

0
131

Chandauli News चकिया कोतवाली क्षेत्र के सैदूपुर कस्बा में विवाहिता कंचन देवी 20 वर्ष ने शनिवार को दिन में फांसी के फंदे पर झूलकर अपनी ईह लीला समाप्त कर ली। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम हेतु जिला अस्पताल भेज दिया है।
बिहार प्रांत के कैमूर जिला अंतर्गत चांद थाना क्षेत्र के बसहां गांव निवासी महादेव चौहान की पुत्री कंचन चौहान ने चंदौली जिला के बर्थरा खुर्द गांव निवासी अमित चौहान से 4 वर्ष पूर्व प्रेम विवाह किया था। विवाह के बाद से पति पत्नी दोनों सैैदूपुर में मकान बनाकर रहते थे। इस दौरान विवाहिता ने एक पुत्र को भी जन्म दिया। दोपहर के वक्त अमित किसी कार्य वश कहीं गया था। इसी बीच घर में खेलते वक्त बेटे को चोट लग गया। घर आने पर अमित ने बेटे को चोट लगा देखा तो पत्नी कंचन को डांटा और दोनों में बहस हुई तो उसने पत्नी को दो-चार थप्पड़ पीट दिया। जिससे नाराज होकर पत्नी कंचन ने मोबाइल में गेम लगाकर बेटे को दे दिया। और अपने पीछे कमरे में जाकर अंदर से दरवाजा बंद करके टीन सेट लगे पाइप में रस्सी के सहारे गले में फांसी का फंदा लगाकर झूल गई। काफी देर तक दरवाजा बंद रहा तो पति अमित दरवाजा को पीटकर खुलवाने का प्रयास किया। लेकिन अंदर से कोई आवाज नहीं मिली तो वह बगल में ईंट के बीच के सुराग से देखा तो कंचन फांसी के फंदे पर लटकी हुई थी। जिस पर उसने डायल 112 नंबर को फोन कर सूचना दी। मौके पर आए सीओ रघुराज थानाध्यक्ष मिथिलेश तिवारी ने बंद दरवाजे को तोड़कर फांसी के फंदे पर लटके युवती के शव को बाहर निकलवाया। और शव को कब्जे में लेकर अंत्य परीक्षण हेतु जिला अस्पताल भेज दिया।
थानाध्यक्ष मिथिलेश तिवारी ने बताया कि अभी तक मैके पक्ष की ओर से कोई तहरीर नहीं पड़ी है। हालांकि प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या का प्रतीत होता है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here